DA Image

[ad_1]

श्री दुर्गाष्टमी व्रत। श्री राधाष्टमी। महर्षि दधीचि जयंती। सूर्य दक्षिणायन, सूर्य उत्तर गोल। वर्षा ऋतु। सायं 4 बजकर 30 मिनट से सायं 6 बजे तक राहुकालम्।

4 सितंबर, रविवार, 13 भाद्रपद (सौर) शक1943, 18 भाद्रपद मास प्रविष्टे 2079, 7 सफर सन् हिजरी 1444, भाद्रपद शुक्ल अष्टमी प्रात 10 बजकर 41 मिनट तक उपरांत नवमी, ज्येष्ठा नक्षत्र रात्रि 9 बजकर 43 मिनट तक तदनन्तर मूल नक्षत्र, विषकुंभ योग मध्याह्न 2 बजकर 23 मिनट तक पश्चात प्रीति योग, बव करण—चंद्रमा रात्रि 9 बजकर 43 मिनट तक वृश्चिक राशि में उपरांत धनु राशि में।

सूर्य और चंद्रमा का समय

सूर्योदय – 6:00 AM

सूर्यास्त – 6:39 PM

चन्द्रोदय – Sep 04 1:42 PM

चन्द्रास्त – Sep 05 12:02 AM

राशिफल : मेष, कर्क, सिंह वाले बहुत बचकर पार करें समय, हनुमान जी की करें अराधना

आज के शुभ मुहूर्त

  • ब्रह्म मुहूर्त– 04:30 ए एम से 05:15 ए एम
  • अभिजित मुहूर्त– 11:55 ए एम से 12:45 पी एम
  • विजय मुहूर्त– 02:26 पी एम से 03:17 पी एम
  • गोधूलि मुहूर्त– 06:27 पी एम से 06:51 पी एम
  • अमृत काल– 01:22 पी एम से 02:53 पी एम
  • निशिता मुहूर्त– 11:57 पी एम से 12:43 ए एम, सितम्बर 05
  • सर्वार्थ सिद्धि योग– 09:43 पी एम से 06:01 ए एम, सितम्बर 05
  • रवि योग– 09:43 पी एम से 06:01 ए एम, सितम्बर 05

आज के अशुभ मुहूर्त- 

  • राहुकाल- 05:05 पी एम से 06:39 पी एम
  • यमगण्ड- 12:20 पी एम से 01:55 पी एम
  • आडल योग– 09:43 पी एम से 06:01 ए एम, सितम्बर 05
  • दुर्मुहूर्त– 04:58 पी एम से 05:49 पी एम
  • गुलिक काल– 03:30 पी एम से 05:05 पी एम

[ad_2]

Source link

If you like it, share it.
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *