Hindustan Hindi News

[ad_1]

Horoscope Rashifal 5 March 2022 : वैदिक ज्योतिष शास्त्र में कुल 12 राशियों का वर्णन किया गया है। हर राशि का स्वामी ग्रह होता है। ग्रह-नक्षत्रों की चाल से राशिफल का आकंलन किया जाता है। 5 मार्च 2022 को शनिवार है। शनिवार का दिन हनुमान जी और शनिदेव को समर्पित होता है। इस दिन विधि- विधान से हनुमान जी और शनिदेव की पूजा- अर्चना की जाती है। प. राघवेंद्र शर्मा से जानिए 5 मार्च, 2022 को किन राशि वालों को होगा लाभ और किन राशि वालों को रहना होगा सावधान। पढ़ें मेष से लेकर मीन राशि तक का हाल…

मेष राशि- आत्मविश्वास भरपूर रहेगा। मानसिक शान्ति‍ के लिए भी प्रयास करें। कारोबार में सुधार होगा। शासन सत्ता का सहयोग मिलेगा। आय में वृद्धि होगी। परिवर्तन के योग भी बन रहे हैं। आशा-निराशा के भाव मन में रहेंगे। खर्चों की अधिकता रहेगी। आय में कठिनाइयां आ सकती हैं।

इन बर्थडेट वालों के लिए 31 मार्च तक का समय शुभ, होगा महालाभ

वृष राशि- मन प्रसन्न रहेगा। शैक्षिक कार्यों में मान-सम्मान की प्राप्ति‍ हो सकती है। शासन-सत्ता का सहयोग मिल सकता है। वाहन सुख में वृद्धि हो सकती है। क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मानसिकता रहेगी। आत्मविश्वास से लवरेज रहेंगे। स्वभाव में चिड़चिड़ापन भी रहेगा। किसी मित्र का आगमन हो सकता है।

मिथुन राशि- मन में निराशा एवं असन्तोष हो सकता है। रहन-सहन अव्यवस्थित रहेगा। कार्यक्षेत्र पर स्थिति सन्तोषजनक रहेगी। मेहनत अधिक रहेगी। अफसरों का सहयोग मिलेगा। खानपान के प्रति रुझान बढ़ सकता है। माता-पिता का साथ मिल सकता है। घर-परिवार में मांगलिक कार्य हो सकते हैं। घर में सौन्दर्यीकरण के कार्य होंगे।

कर्क राशि- मन प्रसन्न रहेगा। आत्मविश्वास से परिपूर्ण रहेंगे। नौकरी में कार्यभार बढ़ सकता है। कारोबार में भी वृद्धि होगी। लाभ के अवसर भी मिलेंगे। वस्त्रों आदि पर खर्च अधिक रहेंगे। पारिवारिक समस्याएं परेशान कर सकती हैं। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थान की यात्रा का कार्यक्रम भी बन सकता है।

सिंह राशि- परिवार के स्वास्थ्‍य के प्रति सचेत रहें। आय में कमी एवं खर्च अधिक की स्थिति हो सकती है। कुछ मित्रों का सहयोग मिल सकता है। क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा के भाव मन में रहेंगे। किसी मित्र के सहयोग से धनार्जन के स्रोत विकसित हो सकते हैं। सेहत का ध्यान रखें। मन परेशान हो सकता है।

31 मार्च तक ये 4 राशि वाले रहेंगे मौज में, आने वाले 26 दिन वरदान के समान

कन्या राशि- मन प्रसन्न रहेगा। आत्मसंयत रहें। किसी मित्र के सहयोग से नौकरी में परिवर्तन के अवसर मिल सकते हैं। आय में भी वृद्धि होगी। किसी पैतृक सम्पत्ति से धन लाभ के योग बन रहे हैं। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। सन्तान को स्वास्थ्‍य विकार हो सकते हैं। नौकरी में इच्छा-विरुद्ध कोई अतिरिक्त जिम्मेदारी मिल सकती है।

तुला राशि- धैर्यशीलता बनाये रखने के प्रयास करें। भवन सुख में वृद्धि हो सकती है। नौकरी में कोई अतिरिक्त जिम्मेदारी मिल सकती है। परिश्रम अधिक रहेगा। भाई-बहनों के सहयोग से कारोबार का विस्तार हो सकता है। लाभ में वृद्धि होगी। शैक्षिक एवं बौद्धिक कार्यों में सफलता मिलेगी। परिश्रम अधिक रहेगा।

वृश्चिक राशि- कारोबारी कार्यों में मन लगेगा। कारोबार का विस्तार हो सकता है, परन्तु परिश्रम अधिक रहेगा। किसी मित्र का सहयोग मिल सकता है। आय में वृद्धि होगी। कुछ पुराने मित्रों से पुनःसम्पर्क हो सकते हैं। क्रोध एवं आवेश के अतिरेक से बचें। सम्पत्ति में निवेश कर सकते हैं। वाहन सुख में वृद्धि होगी।

धनु राशि- मानसिक शान्ति‍ के लिए प्रयास करें। बातचीत में सन्तुलित रहें। किसी किसी पुराने मित्र से पुनःसम्पर्क हो सकते हैं। नौकरी में तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे। पिता का सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। परिवार के साथ यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। खर्च की अधिकता रहेगी। शैक्षिक कार्यों में व्यवधान आएंगे।

मकर राशि- आलस्य अधिक हो सकता है। कार्यों में व्यवधान सकते हैं। माता-पिता का सानिध्य मिल सकता है। किसी सम्पत्ति से धन लाभ हो सकता है। मित्रों का सहयोग मिलेगा। आत्मविश्वास से लवरेज रहेंगे, परन्तु अति उत्साही होने से बचें। बातचीत में संयमित रहें। आय में वृद्धि होगी। सन्तान को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं।

कुंभ राशि- वाणी में मधुरता रहेगी। धैर्यशीलता में कमी हो सकती है। भवन के रख-रखाव पर खर्च बढ़ सकते हैं। वस्त्रों पर भी खर्च बढ़ सकते हैं। सेहत का ध्यान रखें। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। शैक्षिक कार्यों में व्यवधान आ सकते हैं। वाणी में सौम्यता रहेगी। म‍ित्रों से भेंट होगी।

मीन राशि- मन प्रसन्न रहेगा। सन्तान सुख में वृद्धि होगी। उपहार में वस्त्रों की प्राप्ति‍ हो सकती है। स्वास्थ्‍य का ध्यान रखें। खर्च अधिक रहेंगे। परिवार का साथ मिलेगा। सुख-शान्ति रहेगी। कार्यक्षेत्र में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। धर्म के प्रति श्रद्धाभाव रहेगा। भाइयों का सहयोग रहेगा

[ad_2]

Source link

If you like it, share it.
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *